Social media का आज के समय में सबसे बड़ा दुष्प्रभाव
यह है कि इसका उपयोग करके लोग अफवाहें फैला रहे हैं।
facebook, whatsapp आदि के माध्यम से कोई भी
गलत खबर या जानकारी मिनटों में लाखों लोगों तक पहुच
जाती है और लोग इसे सही भी मान लेते हैं। Reliance Jio के बारे में भी ऐसी ही अफवाहों का बाजार गर्म है।

Reliance Jio जब से launch हुआ है इसको लेकर
भी तरह तरह की अफवाहें फैलाई जा रही हैं। कुछ अफवाहें
पुरानी हो गई और लोगों को इसकी सच्चाई भी पता चल
गई पर अब नई अफवाहें फैलाई जा रही हैं। इन अफवाहों
की सच्चाई लोगों के सामने लाना बहुत जरुरी है। जरुरी
है कि internet का प्रयोग ऐसी अफवाहों को दूर करने
के लिए किया जाये।

आइये जानते हैं कौन कौन सी अफवाहें फैलाई जा रही हैं
और उनकी सच्चाई क्या है।

शुरुआत में जब reliance jio launch हुआ था और
sim के लिए लोग लाइनों में लग रहे थे तभी किसी ने ये
अफवाह फैलाई कि jio का sim card mobile में लगाते
ही आपका IMEI lock हो जायेगा इसके बाद आप उस
मोबाइल में कोई भी दूसरी sim नहीं लगा पाएंगे। ये खबर
बिल्कुल झूठी और निराधार है इसमें कोई सच्चाई नहीं है मैं
भी jio चलाता हूँ और मैंने sim बदल कर देखा है कोई भी
सिम चलती है।

अभी तो सबसे ताजा अफवाह फैलाई जा रही है वो किसी
Mrs Ayunuddin Mondal के नाम से एक 27000 का
बिल है जो social media में viral हो रहा है

यह बिल किसी ने photoshop कर के social media में
डाल दिया जिसके बाद ये viral हो गया। इसके बाद कुछ
और लोगों ने अपने facebook account से ऐसे ही post
किया जिसमे उन लोगों द्वारा कहा गया कि उन्हें भी ऐसे
ही bill मिले हैं। दरअसल ये सारी खबर झूठी और बेबुनियाद
है जिसका खंडन Reliance jio ने भी tweet कर के
किया है कि कंपनी ने अपने किसी भी ग्राहक को कोई bill
नहीं भेजा है।

Company ने अपने ग्राहकों को मार्च 2017 तक सभी
सेवाएं मुफ़्त दी हैं किसी भी ग्राहक को कोई bill नहीं देना
होगा निश्चिन्त रहें।

Also ReadReliance Jio 31 march 2017 के बाद भी फ्री

इसी अफवाह से जुडी एक और अफवाह भी फैलाई जा रही है
कि यदि आपने jio का bill नहीं भरा तो आपके bank
account से खुद ही पैसे कट जायेंगे। इसके पीछे तर्क
ये दिया जा रहा है कि चूँकि आपने jio sim लेने के लिए
अपना आधार नंबर दिया है और वही आधार नंबर आपके
bank account से linked है इसलिए आपके bank
account से स्वतः भुगतान हो जायेगा। ये सबसे बेवकूफी
भरी बात है।
bank account से आधार कार्ड को link
करने का उद्देश्य बैंक द्वारा अपने ग्राहकों की पहचान का
सत्यापन करना और KYC को maintain करना है। बैंक
कभी भी ऐसा नहीं कर सकता। इसलिए ये अफवाह भी
झूठी और बेवुनियाद है।

जब तक कंपनी की तरफ से कोई घोषणा न हो किसी भी
अफवाह पर ध्यान न दें। मजे से Reliance Jio की फ्री
services का इस्तेमाल करें।

 

Reliance Jio के customers इन अफवाहों पर न दें ध्यान
Tagged on:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar